युनिएंजाइम टेबलेट उपयोग, नुक्सान, खुराक |Unienzyme Tablet in Hindi

unienzyme tablet uses & side effects in hindi

इस पोस्ट में हम आपको युनिएंजाइम टेबलेट (Unienzyme tablet in hindi) के बारे में बात करेंगे. अभी तक हमने अक्सर डॉक्टर द्वारा सलाह की जाने वाली Combiflam, Meftal Spas, Neurobeon Forte और Cyclopam पर पोस्ट जारी की है.

इस लेख में हम निम्न बिन्दुओ पर चर्चा करेंगे.

  • Unienzyme क्या है? (Unienzyme Tablet in Hindi)
  • Unienzyme के उपयोग व फायदे. ( Unienzyme Benefits & Uses in Hindi)
  • Unienzyme के नुक्सान (Unienzyme Side Effects in Hindi)
  • Unienzyme खुराक ( Unienzyme Dosage in Hindi)

Unienzyme क्या है? (Unienzyme Tablet in Hindi)

Unienzyme एक tablet है, जो की पेट से जुड़े विकारो में उपयोग की जाती है। Unienzyme पेट से जुडी बीमारी जैसे की अपच, एसिडिटी (गैस) के कारण सीने में जलन, ब्लोटिंग,आंतो की विषाक्ता, पेट फूलना आदि को रोकने के लिए उपयोग की जाती है ।

unienzyme-tablet-in-hindi

Unienzyme एक Digestive (पाचन) Enzyme की तरह काम करती है.

Unienzyme Composition 

Unienzyme में मुख्य रूप से सक्रीय Charcoal (कोयला), Papain व Fungal Diastase का मिश्रण है। Papain को पपीते से प्राप्त किया जाता है।

Charcoal शरीर में उपस्थित विषैले पदार्थों को बाहर निकालता है।

Fungal diastase कार्बोहायड्रेट को विघटित करने और Papain प्रोटीन का विघटन करने में सहायक है .जिससे की पाचन प्रकिया सूचलित होती है।

Read:

Unienzyme के उपयोग व फायदे ( Unienzyme Benefits & Uses in Hindi)

Unienzyme Tablet के अधिकतर फायदे/उपयोग पेट की समस्या से जुड़े हुए है. अक्सर पाचन समस्या होने पर डॉक्टर Unienzyme सलाह देते है.

इसके अलावा निम्नलिखित अवस्था में Unienzyme उपयोगी है.

  • पाचन
  • आंत की गैस
  • पेट फूलना
  • कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है
  • गैस
  • गले में खराश या सूजन
  • गर्भावस्था के दौरान पित्त प्रवाह की समस्याएं

Unienzyme की ख़ुराक (Unienzyme in Dosage Hindi)

Unienzyme Tablet की खुराक / Dosage पूरी तरह से डॉक्टर की सलाह पर निर्भर करती है. क्युकी डॉक्टर इसे व्यक्ति की अवस्था अनुसार सलाह करते है.

Unienzyme पाचन प्रकिया को बढ़ाने में सहायक है, तो इसका उपयोग खाना खाने से पहले करना ज्यादा लाभदायक होता है।

Unienzyme का सेवन करने के बाद शरीर सुस्ती महसूस होता है, इसलिए डॉक्टर इसे रात को ज्यादा सलाह करते है.

Unienzyme की एक दिन में 2 या 3 से ज्यादा टेबलेट लेना शरीर के लिया नुकसानदायक हो सकता है । और इसका उपयोग डॉक्टर की परामर्श के बाद ही करे.

Unienzyme की सिरप भी मेडिकल स्टोर पर उपलब्ध होती है और अगर आप टेबलेट का उपयोग करते है तो टेबलेट को चबाकर नहीं खाना चाहिए, इसे तुरंत निगलना चाहिए ।

Read:

Unienzyme के नुकसान (Unienzyme Side Effect in Hindi)

Unienzyme वैसे तो शरीर को कोई नुकसान नहीं करती है पर कभी कभी इसका उपयोग ज्यादा मात्रा में करने से कई लोगो में Side Effects/नुक्सान पाये गये है।

क्युकी हर व्यक्ति अलग-अलग प्रतिक्रिया दवाईयों पर देता है. इसलिए जरुरी नहीं है, कि हर किसी को Side Effects हो और एक जैसे ही हो.

Unienzyme टेबलेट से हो सकने वाले Side Effects निम्न है.

  • कब्ज
  • गहरे रंग का मल
  • पेट में दर्द
  • पेशाब में दिक्कत
  • त्वचा में हल्की जलन
  • दस्त
  • अस्थायी जलन

Unienzyme Tablet Alternative

Unienzyme इसे तो अक्सर इस्तेमाल किये जाने वाली दवाई है. लेकिन किसी कारणवश अगर कोई इसका सेवन नही चाहता है. तो बहुत से Unienzyme Tablet Alternative (विकल्प) मार्किट में मौजूद है.

इनमे से कुछ प्रमुख विकल्प निम्न है.

  • Actidote
  • Merizyme tablet
  • Anzyme Tab
  • Activated charcoal/pepsin
  • Actidose with Sorbitol

Unienzyme Tablet FAQ

क्या Unienzyme Tablet pregnant / गर्भवती महिलाये ले सकती है?

Unienzyme Tablet गर्भवती महिलाओ को सलाह नही की जाती है. क्युकी इसमें पपाया का एंजाइम होता है, जो गर्भवती महिलाओ पर side effect डाल सकता है. इसलिए गर्भवती महिलाओ को पहले डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए.

क्या Unienzyme Tablet से एसिडिटी हो सकती है?

नहीं, Unienzyme Tablet पाचन की शक्ति को बढ़ाता है. इसलिए इससे एसिडिटी होने की संभावना बहुत कम है.

Unienzyme Tablet कब लेनी चाहिए?

Unienzyme Tablet पाचन के लिए है, इसलिए इसका सेवन खाने से पहले ज्यादा फायदेमंद है.

निष्कर्ष

हमे उम्मीद है, कि आपको Unienzyme Tablet से जुडी यह पोस्ट आपके लिए मददगार होगी. इसके साथ आपको Unienzyme Tablet के फायदे व उपयोग (Uses & Benefits), नुक्सान (Side Effects in Hindi) और ख़ुराक (Dosage in Hindi) समझ आ गये होगे.

अगर आपका कोई भी सवाल या सुझाव Unienzyme Tablet पर है, तो कमेंट में जरुर बताये.

Read:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *