33 सपनों के रहस्यमय तथ्य | सेक्सी व डरावने सपनों के बारे में

dream facts in hindi

Scientific Dream Facts in Hindi: पिछले कुछ लेखों में हमने लिवरकिडनी, नींद व शराब से जुड़े रोचक तथ्य जाने थे। इस लेख में हम सपनों से जुड़े रोचक तथ्य जानेंगे।

सपने एक ऐसी क्रिया है, जो हमें सोते हुए आते है और इसपर हमारा नियंत्रण नहीं होता है। लेकिन फिर भी सपने हमारी दैनिक ज़िंदगी से जुड़े हुए होते है और हमारी सोच पर निर्भर करते है। तो आइये जानते है, इस रोचक क्रिया के बारे में रोचक तथ्य।

सपनों के रहस्यमय तथ्य | Mysterious fact of Dream in Hindi

1. एक व्यक्ति अपने सामान्य जीवन काल के दौरान औसतन 6 साल सपने देखने में बिता देता है।

2. बड़े व बच्चों को रात में लगभग 2 घंटे तक सपने आते हैं, और शोधकर्ताओं के अनुसार यह सपने आमतौर पर 5 से 20 मिनट के रहते हैं।

3. हमारे जागने के तुरंत बाद हम अपने सपने को 95% तक भूल जाते हैं।

4. सबसे लंबे सपने सुबह के कुछ घंटों में आते हैं।

5.  तीव्र चक्षुगति निद्रा (Rapid Eye Movement Sleep – REM) – आपकी गहरी नींद है, जिसे REM स्लीप भी कहा जाता है। यह वह अवस्था है, जिसमें नींद का लगभग पांचवा हिस्सा बनता है। इस दौरान हमारा दिमाग बहुत ही सक्रिय हो जाता है, और आँखें तेजी से हरकत में आती है।

6. स्लीप रिसर्च के जर्नल में लिखने वाले फ्रांसीसी शोधकर्ताओं के एक समूह के अनुसार, यह कहना बिल्कुल गलत है, कि कुछ लोगों को सपने नहीं आते है। जबकि वास्तविक रुप से सपने सभी को आते हैं। बस उन्हें अपने द्वारा देखा गया सपना याद नहीं रहता है।

7. यदि कोई व्यक्ति सोते वक्त खर्राटे लेता है, तो आप यह समझ सकते हैं, की वह सपना नहीं देख रहा है।

8. केवल इंसान ही सपने नहीं देखते बल्कि जानवर भी सपने देख सकते हैं। जैसे बिल्ली, घोड़े, कुत्ते, बैल आदि यह सभी जानवर सपने देख सकते हैं। हालांकि यह अभी तक पूरी तरह से सिद्ध नहीं हुआ है, लेकिन अभी तक की गई शोध के अनुसार ऐसा प्रतीत होता है, कि जानवर भी सपने देखते हैं।

9. आप चाहे लाख कोशिश कर ले, लेकिन आप यह याद नहीं रख सकते कि, आपके सपने की शुरुआत कहां से हुई थी। इसका मुख्य कारण यह है, कि आपके सपने रैपिड आई मूवमेंट (REM) से जुड़े होते हैं। इसमें नींद की प्रारंभिक अवस्था की लय काफी तेज होती है, और यह मस्तिष्क तक में पंजीकृत (Register) हो जाती है। इसलिए हमें एक सपने की शुरुआत याद नहीं रहती है।

10. जो लोग जन्म से ही अंधे होते हैं, व भी सपने देख सकते हैं। हाला की उन्हें इस बात की कोई समझ नहीं होती है, कि उन्हें अपने जीवन को कैसे देखना है। लेकिन उसके बावजूद भी व अपने सपने में चित्र के अलावा ध्वनि, गंध, स्पर्श और भावनाओं को सपने में महसूस कर सकते हैं।

11. मनुष्य रात भर में लगभग 90 मिनट तक सपने देख सकता है। हर एक दूसरा सपना पहले वाले की तुलना में लंबे समय तक रहता है। जैसे आपका पहला सपना 5 मिनट तक रह सकता है। जबकि आपके उठने से पहले का आखरी सपना लगभग उससे अधिक 45 मिनट का भी हो सकता है।

12. एक ही सपना बार-बार आना इसका मुख्य कारण यह हो सकता है, कि आपके जीवन में जो समस्या या तनाव है। आप उसे हल नहीं कर पा रहे हैं।

13. आपको कई बार लगता है, कि आपने सपने में किसी नए व्यक्ति को देखा है, लेकिन यह असंभव है, क्योंकि यह माना गया है, कि आपका मस्तिष्क एक नया चेहरा बनाने में असमर्थ है। आप उसी व्यक्ति को अपने सपने में देख सकते हो, जिसे या तो आप व्यक्तिगत रूप से जानते हो या फिर आपने कहीं ना कहीं या फिर कभी ना कभी देखा हो।

14. कलर टीवी आने से पहले 80% लोगों को ब्लैक एंड वाइट सपने आते थे। यानि हमारे सपनों पर टेकनोलोजी का बड़ा प्रभाव है।

15. स्लीप पैरालिसिस एक ऐसी अवस्था है, जिसमें व्यक्ति सपने देखते समय डर का अनुभव करता है, और इस अवस्था में वह अपने हाथ और पैर हिलाने में असमर्थ रहता है।

पढ़िये:

16. एक शोध के अनुसार ज्यादातर सपने नकारात्मक (Negative) होते हैं। इसका एक कारण यह हो सकता है, कि सकारात्मक (Positive) चीजों की तुलना में हमारा दिमाग नकारात्मक चीजों की तरफ ज्यादा आकर्षित रहता है। इसी वजह से हमें सपनों में भी नकारात्मक चीजों का अनुभव अधिक रहता है।

17. 1984 में बनी दी टर्मिनेटर एक हॉलीवुड मूवी है। आश्चर्य की बात यह है, कि इसके निर्देशक जेम्स कैमरून का कहना है, की यह मूवी उनके एक बुरे सपने से प्रेरित मूवी है।

18. सपनों पर पहला ग्रंथ चेतना अध्ययन में अल-फराबी (872-951) ने ऑन द कॉज ऑफ ड्रीम्स लिखा था।

19. ऐसा माना जाता है, कि जिसका बुद्धि स्तर (IQ level) जितना अच्छा होता है, उन्हें सपने भी अधिक आते हैं।

20. सिलाई मशीन का आविष्कार एलायस होवे के द्वारा किया गया था। उनका कहना था, कि इसका विचार उन्हें एक सपने से आया। उन्होंने सपने में देखा कि कुछ आदिवासियों ने उन्हें पकड़ रखा है, और उन आदिवासियों के पास कुछ सामान है। जिससे व कुछ सिल रहे हैं। हालांकि यह काफी डरावना सपना है, लेकिन इसी सपने से प्रेरित होकर उन्होंने सिलाई मशीन का आविष्कार किया।

21. रात के समय स्वप्न दोष (वीर्य निकलने की दिक्कत) होना इसका कारण यह हो सकता है, कि सोने से पहले आपके द्वारा देखी गई ब्लू फिल्म या अश्लील चीजें आपके सपनों पर प्रभाव डालती है, और सपनों में आप उसी चीज को वास्तविक समझना शुरू करते हैं।

22. ऐसा कहा जाता है, कि अमेरिका के 16 राष्ट्रपति अब्राहम लिंकन ने अपनी मौत को सपने में पहले ही देख लिया था। जिसका जिक्र उन्होंने अपनी पत्नी के साथ किया था।

23. पुरुष और महिलाएं दोनों ही अलग-अलग सपने देखते हैं। जैसे पुरुष अपने सपने में 70% आदमियों को ही देखते हैं। जबकि महिलाएं अपने सपने में पुरुष और स्त्री दोनों को ही दिखती है।

24. यदि हम कोई सपना देखते हैं, और उसमें हमें नहीं पता चलता है, कि हम जो देख रहे हैं व एक सपना है, तो उसे ल्युसिड सपने (Lucid Dream) कहते हैं। ल्युसिड सपने में आप खुद की कल्पना द्वारा किरदार और स्थान की रचना कर सकते हैं। जैसे कि अपनी मर्जी से सपने में उड़ना व समय यात्रा करना आदि। ऐसी सभी चीजें आप अपने सपनों में कर पाते हैं। कुल मिलाकर ल्युसिड सपने (Lucid Dream) का मतलब है, कि व सपना जिस पर आपका पूरी तरीके से नियंत्रण हो।

25. यह काफी आश्चर्यचकित करता है, लेकिन यह सत्य है, कि आप अपने सपने में कुछ पढ़ नहीं सकते हो और घड़ी में समय भी नहीं देख पाते हो। जब भी आप सपने में घड़ी की और देखते हैं, तब आपको हर बार समय बदलता हुआ दिखेगा। ऐसा किस लिए होता है, यह अभी तक सिद्ध नहीं हुआ है।

26. यदि आप जागते हुए भी किसी व्यक्ति के सपने देखते हैं, तो इसका मतलब यह है, कि आप उस व्यक्ति को काफी याद कर रहे हैं।

27. कई लोगों का ऐसा मानना है, कि सुबह का सपना सच होता है। लेकिन ऐसा काफी कम देखा जाता है, कि जो घटना सपने में घटती हो, व भविष्य में भी घटे।

28. कई व्यक्तियों को सपने में खोए रहना काफी पसंद होता है। वह चाहते हैं, कि वह हर समय सपने में ही खोय रहे, इसके लिए वह Dimethyltryptamine, जैसे ड्रग्स का इस्तेमाल करते हैं। जो पूरी तरीके से गैरकानूनी होते हैं।

29. हम सोचते हैं, कि सोते समय हमारा दिमाग भी आराम की अवस्था में होता है। लेकिन ऐसा नहीं है, सपने देखते समय हमारा दिमाग और भी तेजी से काम करता है।

30. कई लोगों को नींद में चलने की आदत होती है। जिसे स्लीप डिसऑर्डर कहा जाता है। इसमे इंसान जो सपने में देखता है, वही असल जिंदगी में उसे दोहराने की कोशिश करता है। जैसे नींद में कहीं भी चले जाना। कई बार तो इंसान सपने मे इतना बेकाबू हो जाता है, कि वह छत से कूदना या किसी का खून तक कर देता है, और आश्चर्य की बात यह होती है, कि वह यह सब नींद में कर रहा होता है।

31. हर एक सपने का अपना ही एक अर्थ होता है, हालांकि हम अभी भी इतने सक्षम नहीं है, कि उसे समझ पाए।

32. कई व्यक्तियों के सपनों में हिंसक क्रिया होती है। यह सपने कही न कही चेतावनी के संकेत हो सकते हैं।

33. स्लीप सेक्स एक वास्तविक समस्या है, जिसमें नींद में चलने, बोलने की तरह ही लोग नींद में शारीरिक क्रिया करते है, जैसे संभोग या हस्तमैथुन। इसे Sexsomnia भी कहते है।

पढ़िये:

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *