Aspirin उपयोग, फायदे, खुराख, Side Effects in Hindi

एस्प्रिन टैबलेट (Aspirin Tablet in Hindi) एक NSAID है ओर Ecospirn 75 Tablet का मुख्य तत्व है।

इस लेख मे हम Aspirin के उपयोग, खुराख व Side Effects देखेंगे। इसके साथ-साथ Aspirin के गेस्ट्रो-प्रतिरोध गर्भावस्था मे उपयोग व साइड एफ़ेक्ट्स भी जानेंगे। (Aspirin Gastro-Resistant Tablet Pregnancy Uses in Hindi)

एस्प्रिन क्या है? (Aspirin in Hindi)

Aspirin एक NSAID (non-streodial anti inflammatory drug) वर्ग की दवाई है। Aspirin का रसायनिक नाम Acetylsalicyclic Acid है।

Aspirin का उपयोग आमतौर पर सरदर्द, बुखार, दर्द और सूजन में होता है। ये रक्त को पतला करता है, जिससे हृदय संबंधित व रक्त वाहिकाओं में रक्त का जमना जैसी समस्याओं से राहत मिलती है।

एस्प्रिन की संरचना (Aspirin Composition)

Aspirin में मुख्यतौर पर Acetylsalicylic Acid है, जो Aspirin के गुणों, कारगर बनाने में अहम भूमिका निभाता है।

एस्प्रिन काम कैसे करती है? (How Aspirin Works?)

Aspirin में एन्टी-इंफ्लेमेटरी (Anti-Inflammantry) और एन्टी-पयरेटिक (Antipyretics) गुण होते है, जिससे aspirin दर्द में राहत देता है। Aspirin Cyclo-oxygenase जिससे Prostaglandins निर्मित होता है, इसको शरीर में बनने से रोकता है।

ये केमिकल शरीर में पैदा होते है और सूजन, दर्द को बढ़ाने में व प्लेटलेट को इकट्ठा होने में अहम भूमिका अदा करते है। जिससे रक्त वाहिकाओं से सम्बंधित विकार होने का खतरा रहता है। इस तरह Aspirin गंभीर समस्याओं से बचाती है।

Aspirin को लेने के 15-20 मिनट के अंदर ये अपना काम शुरू करती है। इसका असर 6 घंटे तक दिखता है। 1-2 घंटे में Aspirin सबसे प्रभावशाली परिणाम देता है।

एस्प्रिन के उपयोग व फ़ायदे (Aspirin Uses & Benefits)

Aspirin बहुत सारी बीमारियो मे उपयोगी व फायदेमंद है। मरीज की अवस्था, उम्र, जारी दवाई और मेडिकल रिपोर्ट के अनुसार डॉक्टर इसका सुझाव बहुत-सी बीमारियो व बुरी अवस्था के निदान मे सलह करते है।

Aspirin निम्न अवस्थाओ मे फायदेमंद है।

  • सिर दर्द
  • पीरियड दर्द
  • जुकाम और फ्लू
  • मोच और तनाव
  • गठिया (Arthritis)
  • Rheumatic बुखार व गठिया
  • थक्का बनने से रोकना
  • Colorectal कैंसर मे
  • हार्ट से जुड़ी बीमारी

आप अगर इसका प्रयोग करना चाहते है, तो डॉक्टर से एक बार सलाह ज़रूर ले।

एस्प्रिन के नुक्सान (Aspirin Side-Effects)

Aspirin का ओवरडोज, शरीर की अलग प्रतिक्रिया व डॉक्टर की सलाह बिना सेवन करने पर साइड-एफ़ेक्ट्स व नुक्सान हो सकते है।

जरूरी नहीं है, कि सबको एक समान एक जैसे साइड एफ़ेक्ट हो, लेकिन अवस्था अनुसार ये बदलते रहते है।

निम्न Aspirin से हो सकने वाले प्रमुख Side Effects है। इनके अलावा भी अन्य Side Effects हो सकते है।

  • जी मिचलाना
  • उल्टी
  • अपच
  • कम रक्त प्लेटलेट्स
  • पेट मे अलसर
  • दस्त
  • रक्तचाप में कमी
  • सरदर्द
  • सिने मे जलन
  • पेट या पेट में दर्द, ऐंठन या जलन
  • उलझन
  • कब्ज
  • गहरा पेशाब
  • कम आवृत्ति या मूत्र की मात्रा
  • सांस लेने में मुश्किल
  • बुखार
  • सामान्य थकान और कमजोरी
  • अनियमित दिल की धड़कन
  • भूख में कमी
  • पीठ के निचले हिस्से या साइड में दर्द
  • मांसपेशियों में ऐंठन और कमजोरी
  • हाथ, पैर या होंठ में सुन्नता या झुनझुनी
  • बेचैनी
  • त्वचा के लाल चकत्ते
  • पेट में ऐंठन
  • चेहरे, उंगलियों, या निचले पैरों की सूजन
  • पीली आँखें और त्वचा

Aspirin की खुराख (Dosage)

Aspirin को डॉक्टर के सलाह और बताये गयी तरीके, मात्रा में ही लेना चहिये। इससे कम व ज्यादा प्रयोग नही करना चहिये।

Aspirin को हमेशा ठंडी, सुखी जगहो पर रखना चहिये और इसे सीधी धूप से बचाना चाहिए।

इसे तोड़कर, पीसकर या खाली पेट नही लेना चहिये। इसे पानी के साथ और खाने के बाद पूरा गोली ही लेना (उपयोग करना) चहिये। अगर आप एक समय का खुराख भूल से नही ले पाते है, तो दूसरी बार में ज्यादा (दोनों समय की) खुराख नही लेनी चाहिए।

Aspirin की ओवरडोस और Side Effects होने पर जल्द से जल्द डॉक्टर से बात करनी चाहिए।

एस्प्रिन से सावधानिया (Aspirin Precautions)

कुछ अवस्थाएं जहा Aspirin का प्रयोग नही करना चहिये।

  • पेप्टिक अलसर में।
  • Hemophilia और दूसरे खून बहने से जुड़ी बिमारिओं में।
  • NSAID वर्ग की दवाइयों से एलर्जी होने पर।
  • जो अल्कोहल का आमतौर पे प्रयोग करते है।
  • गर्भवती महिलाओं को डॉक्टर के परामर्श से ही इसका प्रयोग करना चहिये।क्योकि aspirin का ज्यादा dose माँ के दूध में मिल जाता है ,जो होनेवाले बच्चे के लिए अच्छा नही होता।
  • 18 साल से कम उम्र वालो को Aspirin के उपयोग से मानसिक विकार हो सकते है।

निम्न दवाइयों की खुराख जारी हो, तो डॉक्टर को यह बताना जरूरी है। क्योकि Aspirin की संरचना के कारण यह इन अन्य दवाइयो के साथ प्रतिक्रिया कर सकती है।

  • Influenza virus vaccine
  • Anti-platelet agent
  • Captopril
  • Carvedilol
  • Cortisone
  • Defibrotide
  • Dichlorphenamide
  • Ibuprofen
  • Ketorolac
  • Acebutolol
  • Dicumarol
  • Atenolol
  • Betaxolol
  • Bisoprolol
  • Delapril
  • Betamethasone

एस्प्रिन की कीमत (Aspirin Price)

Aspirin का एक पूरी बॉक्स 100 रुपए में लगभग आती है।इसे ऑनलाइन और जनरल स्टोर दोनों से लिया जा सकता है।

एस्प्रिन के विकल्प (Aspirin Alternative)

Ecospirin  उप्लब्ध न होने पे आप इन निम्नलिखित  दवाइयों का भी प्रयोग भी कर सकते है।लेकिन एक बार डॉक्टर से सलाह ज़रूर ले लिजिये।

  • Ecosprin
  • Disprin
  • Loprin 
  • Delisprin
  • Aspeeday 
  • ggrenox Capsule MR 
  • Antiban Asp Capsule 
  • Atorise Asp Capsule
  • Atorise Asp Capsule 
  • Atorlip Capsule 
  • Clavix Gold Tablet
  • Cloflow Plus Capsule 
  • Clopirad A Capsule 
  • Dospin Tablet 

Aspirin FAQ

1) क्या Aspirin और Clopidogrel को एक साथ लिया जा सकता है?

उत्तर- हाँ, लेकिन एक बार डॉक्टर से सलाह  ज़रूर ले लेना चहिये।

2) क्या Aspirin रक्त को पतला करता है?

उत्तर- हाँ, ये रक्त को पतला करता है। Aspirin की कम मात्रा में लेने से ये ब्लड क्लोट को कम करता है।

3) क्या Aspirin NSAID (non-streodial anti inflammatory drug) वर्ग की दवाई है?

उत्तर- हाँ, NSAID वर्ग का पहला दवाई है। NSAID वर्ग का होने के कारण aspirin में निम्नलिखित गुण है:-

  • Analgesic
  • Antipyretic
  • Platelet aggregation inhibitor

4) क्या Aspirin को रोज लिया जा  सकता है?

उत्तर-हाँ, लेकिन बहुत कम मात्रा में और डॉक्टर के सूझाव के बाद।

5) क्या बच्चे इसका प्रयोग कर सकते है?

उत्तर- 18 साल से कम उम्र के बच्चो में इसके उपयोग से काफी सारी मानसिक विकार दर्ज हुए है।इसलिए इसका उपयोग 18 से कम उम्र के बच्चो को नही करना चहिये।इसके बावजूद अगर आप करना चाहते है तो डॉक्टर से परामर्श लेल

6) क्या गर्भवती महिलाए Aspirin ले सकती है?

उत्तर: गर्भवती महिलाओ और स्तनपान कारने वाली महिलाओ को पहले डॉक्टर को अपनी अवस्था बतानी चाहिए। उसके बाद ही सलाह लेकर खुराख शुरू करनी चाहिए। क्योकि इस अवस्था मे साइड एफ़ेक्ट्स होने का खतरा ज्यादा होता है।

निष्कर्ष

हमे उम्मीद है, कि यह लेख “Aspirin के उपयोग (Benefits), फायदे (Uses), खुराख (Dosage) व नुक्सान (Side Effects)” पर उपयोगी होगी। अगर आपका कोई सवाल या सुझाव है, तो हमे कमेंट मे जरूर बताए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *